Ask questions which are clear, concise and easy to understand.

Ask Question
  • 1 answers

Rohan Nayma 5 days, 3 hours ago

😴
  • 1 answers

Sia 🤖 1 week, 2 days ago

  • जोसेफ अर्नेस्ट रेनन सेमेटिक भाषाओं के विशेषज्ञ के साथ साथ बाइबिल के विद्वान, आलोचक, और धर्म के इतिहासकार थे।
  • रेनन को उनके महानतम कार्यों से दुसरो को प्रभावित करने वाले के रूप में जाना जाता है।
  • उनके कार्य मुख्य रूप से ईसाई धर्म की उत्पत्ति, राजनीतिक सिद्धांतों और राष्ट्रीयता और राष्ट्रीय पहचान पर आधारित थे।
  • 2 answers

Sonu Prajapati 1 week, 5 days ago

👎👎👎👎

Om Chaubey Chaubey 1 week, 6 days ago

क्यो कि इस time me hi Kyunki is time mein Logon Ne Kafi Jyada hadse bheja tha aur middle-class image hua tha as a teacher
  • 2 answers

Om Chaubey Chaubey 1 week, 6 days ago

Due to economic hardship hunger food shorted etc did in this time

Abhijit Naitam 1 week, 6 days ago

muze nahi pata
  • 1 answers

Sia 🤖 1 week, 6 days ago

Please ask question with complete information.

  • 1 answers

Ashwin Kumar Azad 1 week, 6 days ago

(1)Do ya do se adhiq star ki sarkare ek hi nagrik samuh par shashan karti hai (2)-kanun banane tatha laagu karne Apne alag alag niyam hai (3)kisi bhi samshya ka samadhan nyaypalika karti hai.
  • 1 answers

Harsh Raj 2 weeks, 3 days ago

विभिन्न सामाजिक समूहों के बीच सौहार्द और शांति बनाए रखना।
  • 2 answers

Aakash Anand 1 week, 5 days ago

2 करोड़

Sahil Garg 2 weeks, 4 days ago

Approximately equally to Haryana population
  • 1 answers

Sia 🤖 2 weeks, 1 day ago

जिनका स्वामित्व कच्चे माल की पूर्ति करने वाले उत्पादकों, श्रमिकों या दोनों के हाथ में होता है। संसाधनों का कोष संयुक्त होता है तथा लाभ-हानि का विभाजन भी अनुपातिक होता है जैसे महाराष्ट्र के चीनी उद्योग, केरल के नारियल पर आधारित उद्योग।

  • 2 answers

Harshit Chauhan 2 weeks, 5 days ago

Akashvani dwara Mausam ka purvanuman, Krishi vishwavidyalayon ka kholna , Kisanon ko kam byaj dar per pradan karne ke liye bankon aur sahkari samiti ka gathan Karna

Rudra Sharma 3 weeks ago

Majjvvh
  • 2 answers

Saimuddin Saim 2 weeks, 1 day ago

X

Pallavi Singh 3 weeks, 1 day ago

प्रशा की सेना और नौकरशाही की मदद से ऑटोमन बिस्मार्क ने राष्ट्रीय एकीकरण के लिए आंदोलन का नेतृत्व किया था
  • 1 answers

Sia 🤖 1 week, 1 day ago

उन्नीसवीं सदी की इस अनुबंध व्यवस्था को बहुत सारे लोगों ने 'नयी दास प्रथा' का भी नाम दिया है। बागानों में या कार्यस्थल पर पहुँचने के बाद मजदूरों को पता चलता था कि वे जैसी उम्मीद कर रहे थे यहाँ वैसे हालात नहीं है। नयी जगह की जीवन एवं कार्य स्थितियाँ कठोर थीं और मजदूरों के पास कानूनी अधिकार कहने भर को भी नहीं थे।

myCBSEguide App

myCBSEguide

Trusted by 1 Crore+ Students

CBSE Test Generator

Create papers in minutes

Print with your name & Logo

Download as PDF

3 Lakhs+ Questions

Solutions Included

Based on CBSE Blueprint

Best fit for Schools & Tutors

Work from Home

  • Work from home with us
  • Create questions or review them from home

No software required, no contract to sign. Simply apply as teacher, take eligibility test and start working with us. Required desktop or laptop with internet connection