No products in the cart.

हिंदी कोर

CBSE class 11 हिंदी कोर course material includes syllabus, question papers, online tests and important questions as per CBSE syllabus. Notes, test papers and school exam question papers with solutions. The topics covered are प्रेमचंद, कबीर [कविता], कृष्णा सोबती, मीरा [कविता], सत्यजित राय, रामनरेश त्रिपाठी [कविता], बालमुकुन्द, सुमित्रानंदन पंत [कविता], शेखर जोशी, भवानीप्रसाद मिश्र [कविता], कृष्णनाथ, त्रिलोचन [कविता], मन्नू भंडारी, दुष्यंत कुमार [कविता], कृश्नचंदर, अक्क महादेवी [कविता], जवाहरलाल नेहरु, अवतार सिंह पाश [कविता], सैयद रजा हैदर, निर्मला पुतुल [कविता], लता मंगेशकर, राजस्थान की रजत बूंदें, आलो आंधारी.

CBSE, JEE, NEET, NDA

CBSE, JEE, NEET, NDA

Question Bank, Mock Tests, Exam Papers

NCERT Solutions, Sample Papers, Notes, Videos

myCBSEguide  App

myCBSEguide App

Complete Guide for CBSE Students

NCERT Solutions, NCERT Exemplars, Revison Notes, Free Videos, CBSE Papers, MCQ Tests & more.

डाउनलोड पीडीएफ प्रारूप में सीबीएसई कक्षा 11 हिन्दी कोर अध्ययन सामग्री। MyCBSEguide सीबीएसई कक्षा 11 हिन्दी कोर के लिए हल के कागजात, बोर्ड प्रश्न पत्रों, संशोधन नोट और एनसीईआरटी समाधान प्रदान करता है। शामिल विषय हैं: प्रेमचंद, कबीर [कविता], कृष्णा सोबती, मीरा [कविता], सत्यजित राय, रामनरेश त्रिपाठी [कविता], बालमुकुन्द, सुमित्रानंदन पंत [कविता], शेखर जोशी, भवानीप्रसाद मिश्र [कविता], कृष्णनाथ, त्रिलोचन [कविता], मन्नू भंडारी, दुष्यंत कुमार [कविता], कृश्नचंदर, अक्क महादेवी [कविता], जवाहरलाल नेहरु, अवतार सिंह पाश [कविता], सैयद रजा हैदर, निर्मला पुतुल [कविता], लता मंगेशकर, राजस्थान की रजत बूंदें, आलो आंधारी

(क) अपठित अंश

1. अपठित गद्यांश - बोध (गद्यांश पर आधारित बोध , प्रयोग , रचनान्तरण , शीर्षक आदि ) पर लघुत्तरात्मक प्रश्न )(2x4 लघुत्तरात्मक प्रश्न + 1x2 अतिलघुत्तरात्मक प्रश्न )

2. अपठित काव्यांश - बोध (काव्यांश पर आधारित पांच लघुत्तरात्मक प्रश्न ) (1x5)

(ख) कार्यालयी हिंदी और रचनात्मक लेखन

3. निबंध (बिकल्प सहित )

4. कार्यालयी पत्र (विकल्प सहित )

5. जनसंचार माध्यम और पत्रकारिता के विविध आयामो पर पांच लघुत्तरात्मक प्रश्न

6. फीचर , रिपोर्ट,आलेख लेखन (जीवन संदर्वो से जुडी घटनाओ और स्थितियो पर )

(ग) पाठ्यपुस्तक

1). आरोह भाग-1

अ). काव्य भाग

7. काव्यांश पर अर्धगर्हण से सम्बंधित चार प्रश्न (2+2+2+2)

8. एक काव्यांश के सौन्दर्यबोध में दो प्रश्न (3+3)

9. कविता के विषयवस्तु पर आधारित तीन लघुत्तरात्मक प्रश्न(2+2+2)

ख़) गद्य भाग

10. गद्यांश पर आधारित अर्धगर्हण से सम्बंधित तीन प्रश्न(2+2+2)

11. पाठो की विसयवस्तु पर आधारित तीन बोधात्मक प्रश्न(3+3+3)

2). वितान भाग 1 (पूरक पाठ्य पुस्तक )

12. पथो की विसयवस्तु पर आधारित एक मूल्यपरक प्रश्न

13. विसयवस्तु पर आधारित दो निबंधात्मक प्रश्न(5+5)

(घ). मौखिक परीक्षा (श्रवण तथा वाचन )

मौखिक परीक्षा (श्रवण तथा वाचन) हेतु दिशा-निर्देश

श्रवण (सुनना): वर्णित या पठित सामग्री को सुनकर अर्थग्रहण करना, वार्तालाप करना, वाद-विवाद, भाषण, कवितापाठ आदि को सुनकर समझना, मूल्यांकन करना और अभिव्यक्ति के ढंग को समझना। (5)

वाचन (बोलना): भाषण, सस्वर कविता-पाठ, वार्तालाप और उसकी औपचारिकता, कार्यक्रम-प्रस्तुति, कथा-कहानीअथवा घटना सुनाना, परिचय देना, भावानुकूल संवाद-वाचन। (5)

वार्तालाप की दक्षताएँ:

टिप्पणी: वार्तालाप की दक्षताओं का मूल्यांकन निरंतरता के आधार पर परीक्षा के समय ही होगा। निर्धारित 10 अंकों में से 5 श्रवण (सुनना) कौशल के मूल्यांकन के लिए और 5 वाचन (बोलना) कौशल के मूल्यांकन के लिए होंगे।

श्रवण (सुनना) कौशल टिप्पणी का मूल्यांकन: परीक्षक किसी प्रासंगिक विषय पर एक अनुच्छेद का स्पष्ट वाचन करेगा। अनुच्छेद तथ्यात्मक या सुझावात्मक हो सकता है। अनुच्छेद लगभग 250 शब्दों का होना चाहिए। अध्यापक को सुनते-सुनते परीक्षार्थी अलग कागज़ पर दिए हुए श्रवण बोध के अभ्यासों को हल कर सकेंगे।

अभ्यास रिक्तस्थान-पूर्ति, बहुविकल्पी अथवा सत्य/असत्य का चुनाव आदि विधाओं में हो सकते हैं। प्रत्येक आधे-आधे अंक के लिए 10 परीक्षण होंगे।

मौखिक अभिव्यक्ति (बोलना) का मूल्यांकन:
1- चित्रें के क्रम पर आधारित वर्णन: इस भाग में अपेक्षा की जाएगी कि विद्यार्थी विवरणात्मक भाषा का प्रयोग करें।
2- किसी चित्र का वर्णन: चित्र लोगों या स्थानों के हो सकते हैं।
3- किसी निर्धारित विषय पर बोलना: जिससे विद्यार्थी अपने व्यक्तिगत अनुभव का प्रत्यास्मरण कर सकें।
4- कोई कहानी सुनाना या किसी घटना का वर्णन करना।

टिप्पणीः

  • परीक्षण से पूर्व परीक्षार्थी को कुछ तैयारी के लिए समय दिया जाए।
  • विवरणात्मक भाषा में वर्तमान काल का प्रयोग अपेक्षित है।
  • निर्धारित विषय परीक्षार्थी के अनुभव-जगत के हों। जैसेः कोई चुटकला या हास्य प्रसंग सुनाना।

अथवा

हाल में पढ़ी पुस्तक या देखे हुए चलचित्र (सिनेमा) की कहानी सुनाना।

  • जब परीक्षार्थी बोलना आरंभ कर दे तो परीक्षक कम से कम हस्तक्षेप करे।

कौशलों के अंतरण का मूल्यांकन

(इस बात का निश्चय करना कि क्या विद्यार्थी में श्रवण और वाचन की निम्नलिखित योग्यताएँ हैं।)

प्रस्तावित पुस्तकें:
1- आरोह भाग-1 एन-सी-ई-आर-टी- द्वारा प्रकाशित
2- वितान भाग-1 एन-सी-ई-आर-टी- द्वारा प्रकाशित
3- अभिव्यक्ति और माध्यम - एन-सी-ई-आर-टी- द्वारा प्रकाशित (खण्ड-ख कामकाजी हिंदी और रचनात्मक लेखन हेतु)

myCBSEguide App

myCBSEguide

Trusted by 1 Crore+ Students

Question Paper Creator

  • Create papers in minutes
  • Print with your name & Logo
  • Download as PDF
  • 5 Lakhs+ Questions
  • Solutions Included
  • Based on CBSE Syllabus
  • Best fit for Schools & Tutors

Test Generator

Test Generator

Create papers at ₹10/- per paper

Download myCBSEguide App